धान अधिप्राप्ति को लेकर मुख्यमंत्री ने की समीक्षा बैठक!

0

कार्यकारी संपादक पंकज कुमार ठाकुर :

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक अन्य मार्ग स्थित नेक संवाद मे खरीफ विपणन मौसम वर्ष2020-21मे धान अधिप्राप्ति से संबंधित समीक्षा की। बैठक में सहकारिता विभाग के सचिव बंदना प्रेयसी ने धान अधिप्राप्ति से अद्यतन विस्तृत जानकारी दी उन्होंने धान अधिप्राप्ति का अद्यतन वित्तीय पक्ष धान अधिप्राप्ति में अद्यतन किसानों की संख्या जिला वार अधिप्राप्ति के लक्ष्य के विरुद्ध उपलब्धि के साथ-साथ अधिप्राप्ति से जुड़े अन्य बिंदुओं की जानकारी दी। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुए कहा कि सभी जिला अधिकारी क्षेत्र भ्रमण करें और किसानों से वास्तविक स्थिति की जानकारी लें ताकि जो भी इच्छुक किसान बचे हुए हैं उनकी अधिक से अधिक धान की खरीद हो सके बचे हुए किसानों का आकलन कराएं और क्षेत्र में धान की उपलब्धता का भी आकलन करें। उन्होंने कहा कि हम लोग किसानों के हित में काम कर रहे हैं किसानों और टैक्स के बीच बेहतर कोऑर्डिनेशन के लिए पदाधिकारी सजग रहें। पैक्स और चावल मिलो की भंडारण क्षमता क्षमता का आकलन कर उसका विस्तार करें। जिन क्षेत्रों में धान अधिप्राप्ति कम हुई है उनका कारण पता करें और अधिक से अधिक इच्छुक किसानों से धान अधिप्राप्ति हो यह सुनिश्चित करें। धान अधिप्राप्ति के उपरांत किसानों का भुगतान यथाशीघ्र करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों से किसानों की तरफ से मांगा आ रही थी कि धान अधिप्राप्ति की समय सीमा बढ़ा दी जाए इसे देखते हुए धान अधिप्राप्ति की समय सीमा को 21 फरवरी 2021 तक बढ़ा दिया गया है ताकि कोई भी इच्छुक किसान धान अधिप्राप्ति से वंचित नहीं रह सके। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलों के समीक्षा बैठक से जुड़े हुए थे औरंगाबाद गया भोजपुर बक्सर नालंदा पटना कैमूर रोहतास बांका सुपौल नवादा अरवल जहानाबाद पूर्वी चंपारण पश्चिमी चंपारण लखीसराय जिले के जिला अधिकारियों ने अपने जिले में धान अधिप्राप्ति की अद्यतन जानकारी मुख्यमंत्री को दी। बैठक में उर्जा सह खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव, मुख्य सचिव दीपक कुमार, सचिव खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विनय कुमार, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह सहित कई पदाधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *