मुख्तार के लिए- सब भांति मौत ही आयी है, इस ओर गिरू तो कुआँ है उस ओर गिरू तो खाई

0

मुख्तार अंसारी उत्तर-प्रदेश का जानामाना अपराधी, जिसके खिलाफ सैकड़ो शिकायत मौजूद है, वो कुख्यात अपराधी जिसने आम लोगो की ज़िंदगी बेहाल करके रख दी थी, सरकारे आती रही जाती लेकिन मुख्तार का दबदबा, आतंक और कद खूब बढ़ता रहा, ये कहना बिल्कुल गलत नही होगा की ऐसे गुंडो को सरकार से सरंक्षण मिला, चाहे वो समाजवादी पार्टी हो या बहुजन सभा पार्टी हो, लेकिन कहते है ना समय बड़ा बलवान होता है, समय ने करवट ली सत्ता बदली और बदल गई इन खूँखार अपराधियो की किस्मत, जब से सत्ता में योगी सरकार आयी है तब से इन बदमाशो के उल्टे दिन शुरू हो गए है, आये-दिन यूपी का घटनाक्रम कुछ ऐसा है की अपराधी अपनी किस्मत पर रो रहे है, पढ़िए ये रिपोर्ट

योगी सरकार के अभियान के कारण उत्तर प्रदेश के माफियाओं में बौखलाहट दिख रही है। मऊ जिले में एक के बाद एक मुख्तार अंसारी और उसके करीबियों की अवैध सम्पत्तियों को जब्त किया जा रहा है। अब उसके गुर्गे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जान से मार डालने की धमकी दे रहे हैं। एक नंबर से पुलिस हेल्पलाइन 112 पर मैसेज भेज कर यह धमकी दी गई।

पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय के अनुसार पुलिस हेल्पलाइन के व्हाट्सएप नंबर पर कई मैसेज भेज कर धमकी दी गई। इसके बाद लखनऊ स्थित हजरतगंज थाने के इंस्पेक्टर अंजनी कुमार पांडेय ने मुकदमा पंजीकृत कराया। बुधवार (सितम्बर 23, 2020) की सुबह 9:56 से लेकर 10:11 के बीच धमकी भरे मैसेज मिले थे। इनमें सीएम योगी आदित्यनाथ के प्रति अभद्र भाषा का प्रयोग किया गया था।

धमकी देते हुए कहा गया था कि मऊ से 5 बार विधायक रहे मुख़्तार अंसारी को 24 घंटे के भीतर रिहा किया जाए। अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो शुक्रवार (सितम्बर 25, 2020) को सरकार ‘मिटा’ दी जाएगी। पुलिस ने उस नंबर के डिटेल्स पता कर लिए हैं, जिससे ये मैसेज भेजे गए थे। पुलिस की एक टीम आरोपित की गिरफ़्तारी के लिए गठित कर दी गई। गुरुवार देर एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर पुलिस उससे पूछताछ कर रही है

आरोपित का नाम अमरपाल बताया जा रहा है, जो कि ट्रक ड्राइवर है। वह एटा का रहने वाला है। उसके आपराधिक इतिहास की जाँच की जा रही है। साथ ही ये भी पता लगाया जा रहा है कि माफिया मुख़्तार अंसारी के साथ उसके क्या सम्बन्ध हैं। पुलिस ने बताया है कि पूछताछ पूरी होते ही इस घटना का पर्दाफाश किया जाएगा। उसने सरकार मिटाने की बात करते हुए धमकी दी थी कि ‘योगी आदित्यनाथ को भी नहीं छोड़ा जाएगा’।

खैर योगी सरकार ने पहले ही चेतावनी दे रखी है की अपराधियों के लिए उत्तर प्रदेश में कोई जगह नही है देखने वाली बात ये होगी की योगी आदित्यनाथ अब किस तरह से ऐसे लोगो पर शिकंजा कसेंगे,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *