अर्णब कैसे बने देश के नंबर वन न्यूज़ एंकर,thelankadahan

0

जब कोई पत्रकार सवाल पूछें तो उसमें चाटूकारिता की महक ना हो, एक पत्रकार को हमेशा ये याद रहे की देश की अखंडता और स्मिता पर सवाल खड़े कर रहे लोगो को वरीयता न दे, सवाल ऐसा जो दिल पे लगे, सवाल ऐसा
जो आँखों मे आँखे डालकर पूछा जा सके, आईये आज बात कर रहे है एक ऐसे धुरंधर के बारे में जिसने सवालो औऱ जवाबो का नज़रिया ही बदल दिया, जिसे न लेफ्ट से फर्क पड़ता है ना राइट से, जिसके लिए देश ही सर्बोपरि है जिसके लिए सच ही खबर है, जिसका झूठ से दूर-2 तक कोई नाता न हो,
आज का न्यूज चैनल केवल Breaking News का चैनल बनकर रह गया। किसी नेता का कुत्ता मर गया हो, तो Breaking News, किसी नेता की गाड़ी खराब हो गई हो तो Breaking News, किसी एक्टर ने थपड़ जड़ दिया हो तो Breaking News। यहीं वजह है कि लोग आधुनिक News Presentation Style से नफरत करते है।

पर इतने सारे Negativities के बीच है कोई न्यूज वाला, जिसे लोग बेहद प्यार करते है। जिसे लोग सब काम छोड़कर बड़े चाव से देखते और सुनते है। फ्रेंड, वो और कोई नहीं, बल्कि Asia के नं. 1 News Anchor Arnab Goswami है। जिन्होंने इस TRP की दौड़ में अपने तेज तर्रार News Presentation Style से दर्शकों को लुभाकर अपने आप को सदैव आगे रखा।
आज वे अपना खुद का News Channel स्थापित करने जा रहे है।
आइये जानते है, Arnab Goswami की इस Hindi Biography से, एक पॉलिटिकल और सेना फैमिली से होते हुए कैसे बने Hot And Popular News Anchor ?
Family
अर्नब गोस्वामी का जन्म असम के गुवाहाटी में जाने-माने ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उनके पिता मजोरंजन गोस्वामी एक रिटायर्ड कर्नल है। उनकी माँ सुप्रभा गोस्वामी एक गृहणी और लेखिका है। जिनकी पुस्तक Deserted Bouquet, जो शॉर्ट स्टोरी कलेक्शन है, प्रकाशित हो चुकी है।

Childhood & Education
पिता का भारतीय सेना में होने के कारण उनकी प्रारम्भिक शिक्षा विभिन्न शहरों के स्कूलों में पढ़ते हुए पूर्ण हुई।
कॉलेज की पढ़ाई लिए उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के हिन्दू कॉलेज को जॉइन किया, जहां उन्होंने Sociology में बैचलर की डिग्री प्राप्त किया और 1994 में ऑक्सफोर्ड युनिवेर्सिटी के सेंट एन्टोनी कॉलेज से Social Anthropology में मास्टर की डिग्री पूरा किया।

Anchoring Career
पढ़ाई पूरी होने के बाद उन्होंने 1995 में जर्नलिस्ट के रूप में The Telegraph से अपनी कैरियर की शुरुआत की। पर उन्हें इन संस्था में काम करने में रास नहीं आया और वो एक साल से कम समय में ही द टेलीग्राफ छोड़ TV News NDTV 24×7 से जुड़ गए, जहां डेली न्यूकास्ट का एंकरिंग करने लगे और साथ ही DD Metro पर टेलिकास्ट होने वाले News Tonight का भी एंकरिंग करने लगे।

सक्सेस की सीढ़ी
बेहतर काम के कारण जल्दी ही उन्हें NDTV की कोर टीम में शामिल कर लिया गया। जिसमें उन्हें सीनियर एडिटर बनाया गया, जो चैनल पर प्रसारित होने सभी कंटैंट के लिए जिम्मेदार होता है। इस कारण वे DD Metro छोड़कर NDTV के लिए 24 hours काम करने लगे।

अब वे डेली न्यूज के साथ NDTV की टॉप रेटिड न्यू एनालिसिस शो Newsnight को भी होस्ट करने लगे। यहाँ भी उन्हें अपने उम्दा कार्य के लिए 2004 में Asia के Best News Anchor के रूप में Asian Television Award मिला।

Times Now से नई पारी की शुरुआत
2006 में Arnab Goswami ने एनडीटीवी की नौकरी छोड़ Times Now को Editor in chief और एक एंकर के रूप में जॉइन किया।

वे उस चैनल पर रात 9 बजे प्रसारित होने वाले लाइव न्यूज़ कवरेज प्रोग्राम Newshour को होस्ट किया करते थे, जिसमें दुनियाँ के जाने-माने हस्तियों जैसे परवेज़ मुशरफ, राहुल बजाज शिरकत कर चुके थे।

साथ ही वे स्पेशल इंटरव्यू प्रोग्राम Frankly Speaking with Arnab प्रोग्राम को भी होस्ट कर चुके थे, जिसमें वो बेनज़ीर भुट्टो, हमीद करज़ई, दलाई लामा, हिलेरी क्लिंटन, सोनिया गांधी जैसे विश्व के बड़े व्यक्तित्व की इंटरव्यू लेते थे।
अर्णब ने मीडियाकर्मियों के सोच को बदलकर रख दिया, अर्णब की स्टाइल अब सब कॉपी करना चाहते है लेकिन अर्णब तो बस एक ही है, जिसके सवालो की बौछार से बचना लगभग नामुमकिन है, अर्णब जैसे देशभक्त पत्रकार की हमे बहुत जरूरत है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *