बाँका:-झोपड़ी में सो रहे करीब 70 वर्षीय वृद्ध की गला रेत कर बेखौफ अपराधियों ने की हत्या !

0

अश्विनी श्रीवास्तव की रिपोर्ट :

पिछले 15 दिनों के भीतर लाहोरिया गांव में अपराधियों ने दो वृद्ध की कर दी हत्या !

एक शिक्षक की जमीन पर बने झोपड़ी में रहकर करता था रखवाली का काम !

शिक्षक की पुरानी दुश्मनी को लेकर म घटना की आशंका की जा रही है, व्यक्त !

बांका : रजौन थाना क्षेत्र के लाहोरिया गांव निवासी करीब 70 वर्षीय जामुन साह उर्फ मुन्नी साह कि अपराधियों ने शनिवार की रात गला रेत कर हत्या कर दी। हत्या के कारणों का स्पष्ट पता नहीं चल सका है। घटना की जानकारी मिलते ही रविवार की सुबह रजौन पुलिस सर्किल इंस्पेक्टर राजेश कुमार थानाध्यक्ष बुद्धदेव पासवान, सहायक अवर निरीक्षक संजय कुमार सुमन पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच पड़ताल कर रही है। पुलिस रविवार की देर शाम तक स्क्वायड डॉग की मदद से अपराधियों तक पहुंचने की कवायद में जुटी थी। जानकारी के अनुसार मृतक कुछ वर्षों से उसी गांव निवासी शिक्षक प्रकाश नारायण यादव की जमीन पर निर्मित एक झोपड़ी में रहकर उनके जमीन राजद की देखभाल भी करता था। घटना की रात भी वह उसी चारदीवारी के अंदर निर्मित झोपड़ी में सो रहा था। हत्यारों ने किसी तेज हथियार से उसकी गला रेतकर हत्या कर दी। इस घटना के पीछे शिक्षक की गांव में चल रही पुरानी दुश्मनी भी एक कारण बताया जा रहा है। जिस रात उसकी अपराधियों ने हत्या की उसी रात गांव के दो घरों में चोरी की घटना भी घटी है। घटना की जानकारी मृतक के छोटे पुत्र गुण सागर साह एवं अन्य पुत्रों को तब मिली जब हर रोज की तरह सुबह वह 6:00 बजे तक अपने घर नहीं पहुंचा। छोटे पुत्र गुण सागर ने बताया कि सुबह जब वह परिवार के सदस्यों के साथ वहां पहुंचा और अपने पिता को मेन गेट खोलने के लिए आवाज लगाई तब अंदर से कोई आवाज नहीं आई। दीवार फांद कर जब अंदर पहुंचा तो देखा कि उसके पिता कि किसी ने गला रेत कर हत्या कर दी है। घटना की खबर घरवालों सहित पूरे गांव को मिलते ही लोगों की भीड़ वहां जुटने लगी। इस घटना की प्राथमिकी देर शाम तक दर्ज नहीं हो सकी है। मृतक के बड़े पुत्र पुत्र फ़ुच्चो साह, दूसरे पुत्र गुड्डू साह व तीसरा गुण सागर साह सहित मृतक की पत्नी कैली देवी ने बताया कि उनकी गांव में किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। अत्यंत मृदुभाषी, मिलनसार करीब 70 वर्षीय उस वृद्ध की आखिर किसने और क्यों हत्या की ! यह अभी स्पष्ट नहीं हो सका है। मृतक जिनकी जमीन पर कुछ वर्षों से रखवाली करने के लिए एक झोपड़ी नुमा घर में रहता था, वह जमीन व घर लहोरिया गांव के ही निवासी प्रकाश नारायण यादव की है, जो दुमका में शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं। घटना की जानकारी के बाद अपनी पत्नी सहित बच्चों के साथ वह भी अपने गांव पहुंचे थे उन्होंने भी इस बात की आशंका व्यक्त की है की उनकी दुश्मनी को लेकर निर्दोष उक्त वृद्ध की अपराधियों ने हत्या की हो। बहरहाल रविवार की देर शाम तक पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *