नालंदा:- मार्च के बाद पर्यटक ग्लास ब्रिज का उठा सकेंगे लुत्फ: मुख्यमंत्री!

0

ऋषिकेश कुमार की रिपोर्ट :

अंतरराष्ट्रीय पर्यटक स्थल राजगीर में
बन रहे नेचर सफारी के ग्लास ब्रिज का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने औचक निरीक्षण किया . निरीक्षण के बाद उन्होंने कहा कि आने वाले समय में यह ब्रिज पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र होगा . उन्होंने कहा कि पहले मैंने जू सफारी की रूपरेखा तैयार की उसके बाद मुझे महसूस हुआ कि यहां के प्रकृति के बारे में जानने के लिए नेचर सफारी का निर्माण होना चाहिए और मैंने फिर इस नेचर सफारी का निर्माण शुरू कराया. उन्होंने कहा कि खासकर बच्चे और युवा नेचर के बारे में आकर जान सकेंगे साथ ही उन्होंने कहा कि यह घने जंगलों में है इसलिए सुरक्षा की समुचित व्यवस्था कराई जाएगी . उन्होंने कहा कि मार्च तक या फिर थोड़ा उसके आगे पीछे बनकर तैयार हो जाएगा और फिर पर्यटक इसका आनंद उठा सकेंगें. नेचर सफारी के निरीक्षण के बाद उन्होंने जु सफारी का भी निरीक्षण किया. आपको बता दे कि जु सफारी और नेचर सफारी जंगलों के बीच गया जिला और नालन्दा जिले के बीच मे है जिसके कारण इस इलाके में हमेशा सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम रहेगे. इस ग्लास ब्रिज की कुल लंबाई 85 फीट और छह फीट चौड़ा व 250 फिट की ऊँचाई पर स्थित है।चीन के हेवेन्स प्रान्त के एस टेहांग में बने स्काई वॉक के तर्ज पर बनाया गया हैं।यह बिहार का पहला और देश का दूसरा ग्लास ब्रिज है जिस पर चलना मानो हवा में तैरने के समान है।इस साल 2021 में बिहार वासियों को नया तोहफा मिलने जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *