गिरिडीह:;भारतीय जीवन बीमा निगम का निजीकरण करना देश के लिए घातक: महेंद्र किशोर प्रसाद!

0

रिपोर्ट: विलियम जेकब

बीमा कर्मचारी संघ हजारीबाग मंडल गिरिडीह शाखा इकाईकी वार्षिक आम बैठक भारतीय जीवन बीमा निगम गिरिडीह शाखा कार्यालय में आयोजित की गई। इस बैठक में मंडलीय महासचिव कामरेड महेंद्र किशोर प्रसाद, मंडलीय अध्यक्ष लक्ष्मी नारायण गुप्ता, संयुक्त सचिव हेमंत मिश्रा और सुमित कुमार सिन्हा ,संगठन सचिव जगदीश चंद्र मित्तल और अमरजीत राजवंशी तथा सहायक सचिव मदन कुमार पाठक अतिथि के रुप में उपस्थित थे। बैठक की अध्यक्षता शाखा अध्यक्ष संजय शर्मा ने किया।
बैठक में सबसे पहले दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए 1 मिनट का मौन धारण किया गया। उसके बाद शाखा सचिव सह मंडलीय संयुक्त सचिव धर्म प्रकाश ने वार्षिक प्रतिवेदन के माध्यम से कहा कि केंद्र की मोदी सरकार देश की वास्तविक समस्याओं जैसे महंगाई, बेरोजगारी, महामारी, खराब कानून व्यवस्था आदि से लोगों का ध्यान हटाने के लिए नए-नए नारों से जनता को बरगला रही है तथा धार्मिक उन्माद फैला कर देश की जनता को बांट रही है। कोरोना बीमारी के कारण देश के सभी क्षेत्र ने ऋणात्मक वृद्धि दर्ज किया, वहीं भारतीय जीवन बीमा निगम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 1.78 लाख करोड़ की प्रथम प्रीमियम में आय जुटाकर 25•17 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की। ऐसे उत्कृष्ट वित्तीय संस्था का केंद्र सरकार ने आईपीओ के माध्यम से निजीकरण करने का मन बना लिया है। सरकार के इस कदम का संघ पुरजोर विरोध करती है।
बैठक को संबोधित करते हुए मंडलीय महासचिव महेंद्र किशोर प्रसाद ने कहा कि आज देश भर में डर का माहौल बना दिया गया ।केंद्र सरकार सार्वजनिक प्रतिष्ठानों को बेच रही है ।देश में व्याप्त महंगाई बेरोजगारी जैसी समस्याओं से ध्यान हटाने के लिए राम मंदिर का मुद्दा सामने कर दिया जाता है और लोग दिग्भ्रमित हो जाते हैं।
मंडलीय संयुक्त सचिव हेमंत मिश्रा ने कहा कि केंद्र सरकार देश को कारपोरेट के हाथों में दे रही हैं ।3 नए कृषि बिल सिर्फ किसान के विरोध में ही नहीं पूरे देश के जनता के लिए घातक है। केंद्र सरकार ने देश के समस्त श्रम कानूनों को समाप्त कर 4 श्रम संविदा लाना श्रमिक विरोधी है। संगठन सचिव जगदीश चंद्र मित्तल ने कहा कि एलआईसी इस देश की सबसे मजबूत वित्तीय संस्था है जो इस देश की आधारभूत संरचना के विकास में अहम योगदान दे रही हैं। ऐसी संस्था को आईपीओ के माध्यम से निजी करण करना देश के लिए घातक है। इनके अलावा संयुक्त सचिव सुमित कुमार सिन्हा संगठन सचिव अमरजीत राजवंशी और सहायक सचिव मदन कुमार पाठक ने संबोधित किया।
बैठक में वर्ष 2021 के लिए सर्वसम्मति से कॉमरेड संजय शर्मा को अध्यक्ष तथा कामरेड धर्म प्रकाश को पुनः सचिव चुना गया ।संहिता सरकार और डेनियल मरांडी को उपाध्यक्ष, विजय कुमार ,राजेश कुमार उपाध्याय ,अनुराग मुर्मू और श्वेता को संयुक्त सचिव, उमा नाथ झा, सुनील कुमार वर्मा और दीपक कुमार पासवान को संगठन सचिव, श्वेता कुमारी को कोषाध्यक्ष तथा अभय कुमार को सह कोषाध्यक्ष चुना गया।
बैठक में विजय कुमार, अनुराग मुर्मू ,राजेश कुमार उपाध्याय, संहिता सरकार डेनियल मरांडी, उमा नाथ झा, कुमकुम बाला वर्मा, विनय कुमार, श्वेता, अंजलि श्वेता, सबा परवीन, अंशु कुमारी सिंघानिया, श्वेता कुमारी ,अनिल कुमार वर्मा, दीपक कुमार पासवान ,अरविंद मुर्मू ,सुनील कुमार वर्मा, प्रभाष शर्मा ,नीतिश गुप्ता ,कुलदीप कुमार रवि, संजय कुमार शर्मा, नीरज कुमार सिंह, प्रज्ञा आनंद, महेश्वरी वर्मा, देवनाथ दास, प्रवीण कुमार हंसदा, अभय कुमार, प्रीतम कुमार मेहता, पंकज कुमार, गौरव कुमार सिंह सहित सभी सदस्यों ने भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *