मुख्यमंत्री ने राजगीर के गुरुद्वारा का किया परिभ्रमण, गुरुद्वारे में मत्था टेका !

0

कार्यकारी संपादक पंकज कुमार ठाकुर :

जब तक पृथ्वी रहेगी तब तक ऐतिहासिक और पौराणिक स्थल राजगीर के प्रति रहेगा श्रद्धा : मुख्यमंत्री !

राजगीर के शीतल कुंड के ऐतिहासिक व धार्मिक गाथाओं का किया बखान !

पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को नालंदा जिले के राजगीर स्थित गुरुद्वारा श्री नानक देव शीतल कुंड का परिभ्रमण किया। गुरुद्वारा में मुख्यमंत्री का स्वागत सरोपा भेंट कर किया गया। मुख्यमंत्री ने गुरुद्वारे में मत्था टेका और राज्य की सुख-समृद्धि की कामना की। मुख्यमंत्री ने परिभ्रमण के दौरान गुरुद्वारा के निर्माण कार्य का भी जायजा लिया उन्होंने गुरुद्वारा एवं पर्यटकों के लिए बनाए जा रहे रेस्ट हाउस से संबंधित विस्तृत जानकारी ली उन्होंने जल्द से जल्द निर्माण कार्य पूर्ण करने का निर्देश भी दिया। पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि श्री गुरु गोविंद सिंह जी महाराज का जन्म स्थान बिहार के पटना साहिब में है उनका 35 वां प्रकाश पर्व बड़े धूम-धाम से मनाया गया श्रद्धालुओं की हर सुविधा का ध्यान रखा गया था। वर्ष 2019 में गुरुद्वारा श्री गुरु नानक देव शीतल कुंड का शिलान्यास किया गया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजगीर का गरम कुंड अपने आप में अनोखा है वर्ष 15 से 6 ईसवी में श्री गुरु नानक देव जी राजगीर आए थे। उन्होंने शीतल कुंड के आध्यात्मिक व ऐतिहासिक गाथा का बखान करते हुए गुरुद्वारे के निर्माण कार्य को पूर्ण करने और इसके विस्तार का भी आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि इस वर्ष या नवंबर तक बनकर तैयार हो जाएगा तो जो श्रद्धालु पटना साहिब आएंगे वे राजगीर भी आएंगे। उन्होंने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि देश विदेश से भी लोग राजगीर आएंगे और यहां की कई अद्भुत चीजों को देखेंगे। राजगीर में सभी धर्म के लोग आस्था प्रकट करने के लिए आते हैं । इस पौराणिक तथा ऐतिहासिक स्थल के प्रति सबके मन में सम्मान है । राजगीर मगध सम्राट की राजधानी हुआ करती थी। उन्होंने कहा कि गंगा जल को शुद्ध पेयजल के रूप में नवादा बोधगया, गया एवं राजगीर में लोगों तक पहुंचाने के लिए काम किया जा रहा है। राजगीर का भूजल स्तर मेंटेन रहे, कुंड में पानी बना रहे इन सब चीजों पर ध्यान दिया जा रहा है। इस अवसर पर सांसद कौशलेंद्र कुमार, विधायक श्रवण कुमार, कौशल किशोर, जितेंद्र कुमार के अलावे बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के सदस्य उदय कांत मिश्र सहित अन्य जनप्रतिनिधि गण के अलावे मुख्यमंत्री के सचिव मनीष कुमार वर्मा, अनुपम कुमार, जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह, पुलिस अधीक्षक हरिप्रसाद एस सहित अन्य पदाधिकारी गण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *