मुख्यमंत्री ने ग्रामीण कार्य विभाग की समीक्षा बैठक की!

0

रवि शंकर शर्मा की रिपोर्ट !

मुख्यमंत्री ने की ग्रामीण कार्य विभाग की समीक्षा बैठक

मुख्यमंत्री के निर्देशः-
टोलों एवं बसावटों की संपर्कता का फिजिकल वेरिफिकेशन कराएं, अगर कोई टोला या बसावट छुटे हुये हों तो उन्हें प्राथमिकता के आधार पर जोड़ने का कार्य करें।
सड़कों का कंटिनुअस मेंटेनेंस करायें। सड़कों का मेंटेनेंस विभाग द्वारा ही कराया जाय।
अतिरिक्त संपर्कता कार्यक्रम के लिए कार्य योजना बनाकर तेजी से कार्य करें।

पटना 16 दिसम्बर 2020:- मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने 1 अणे मार्ग स्थित संकल्प में ग्रामीण कार्य विभाग की समीक्षा बैठक की।
समीक्षा बैठक में ग्रामीण कार्य विभाग के सचिव श्री पंकज कुमार पाल ने अपने प्रस्तुतीकरण में ग्रामीण सड़कों के निर्माण की अद्यतन स्थिति, टोलों एवं बसावटों की संपर्कता की अद्यतन स्थिति, ग्रामीण पथों के अनुरक्षण कार्य, न्यू मेंटेनेंस मॉनिटरिंग सिस्टम, ग्रामीण संपर्कता के लिए प्रारंभिक सर्वेक्षण के आधार पर पथों की जानकारी एवं विभाग द्वारा किए जा रहे अन्य कार्यों की विस्तृत जानकारी दी।
समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों को सुलभ संपर्कता प्रदान करने के लिए सरकार लगातार काम कर रही है। ग्रामीण टोला संपर्क निश्चय योजना के तहत सभी टोलों को सड़कों से जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि टोलों एवं बसावटों में संपर्कता का फिजिकल वेरिफिकेशन कराएं और अगर कहीं कार्य बचे हुए हों तो उसे तेजी से पूर्ण कराएं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़कों का कंटिनुअस मेंटेनेंस करायें। सड़कों का मेंटेनेंस विभाग द्वारा ही की जाय। विभागीय अभियंतागण इस कार्य को गंभीरता से लें और इसे गति प्रदान करें। उन्होंने कहा कि लोगों को अतिरिक्त संपर्कता प्रदान करने के लिए अतिरिक्त संपर्कता कार्यक्रम के तहत विभाग कार्य योजना बनाकर तेजी से आगे का काम करे।
बैठक में ग्रामीण कार्य मंत्री श्री विजय कुमार चैधरी, मुख्य सचिव श्री दीपक कुमार, प्रधान सचिव वित्त श्री एस0 सिद्धार्थ, मुख्यमंत्री के सचिव श्री मनीष कुमार वर्मा, खाद्य एवं उपभोक्ता विभाग के सचिव श्री विनय कुमार, ग्रामीण कार्य विभाग के सचिव श्री पंकज कुमार पाल, मुख्यमंत्री के सचिव श्री अनुपम कुमार सहित ग्रामीण कार्य विभाग के वरीय अभियंतागण मौजूद थे।
’’’’’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *