बेगूसराय में रोहित वेमुला अमर रहे के नारे से गूँजता रहा अम्बेडकर छात्रावास!

0

प्रशान्त कुमार की रिपोर्ट:

जीडी कॉलेज में छात्रों ने मनाया शहादत दिवस!

बेगुसराय में जीडी कॉलेज स्थित अम्बेडकर छात्रावास में हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमुला का शहादत दिवस मनाया गया। छात्रों ने रोहित के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।इस दौरान रोहित वेमुला अमर रहे के नारों से छात्रावास गूंज रहा था कार्यक्रम की अध्यक्षता छात्र नायक रोहित कुमार ने की मुख्य वक्ता के रूप में एससीएसटी-ओबीसी एंड माइनयोरिटी संयुक्त संघर्ष मोर्चा के जिलाध्यक्ष विजय पासवान ने कहा कि संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर ने जिस समतामूलक समाज निर्माण का सपना देखा था। रोहित वेमुला ने उसे आगे बढ़ाने का काम किया। उन्होंने शैक्षणिक संस्थानों में व्याप्त जातीय भेदभाव के खिलाफ आंदोलन का नेतृत्व किया। वंचित समाज के लोगों के लिए अधिकार की लड़ाई लड़ी।इससे मनुवादी व्यवस्था की नींव हिलने लगी। उन्हें तरह-तरह से यातना दी जाने लगी। रोहित होनहार छात्र थे। जो बदलाव के लिए संघर्ष कर रहे थे। उन्हें सरकारी तंत्र ने इतनी मानसिक यातनाएं दी कि असखिरकार वह आत्महत्या को विवश हो गए।विजय पासवान ने कहा रोहित वेमुला ने आत्महत्या नहीं की।बल्कि उनकी सांस्थानिक हत्या हुई। देश में वंचित समाज के लाखों छात्रों के साथ आज भी जातीय आधार पर भेदभाव जारी है। इस भेदभाव के खिलाफ आंदोलन को तेज कर जातिविहीन समाज का निर्माण करना ही रोहित वेमुला के सपनो को पूरा करना उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। जितेंद सूर्यवंशी ने कहा आज भी हर क्षेत्र में वंचित समाज के लोगों के साथ भेदभाव जारी है। इसे खत्म करने के लिए एकजुट होकर संघर्ष करने की जरूरत है। मौके पर सामाजिक कार्यकर्ता सुबोध कुमार, छात्र पंकज कुमार,रोहित कुमार, मो साकिब, सनोज कुमार, नीतीश कुमार, सोनू कुमार, छोटू कुमार, सूरज कुमार,संतोष कुमार, ध्रुव कुमार, सुशील कुमार, रामानुज, विक्रम कुमार सहित दर्जनों छात्र मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *