दरभंगा:-15 जनवरी को पेट्रोल पंप लूट की घटना को अंजाम देने पहुचे सभी अपराधी हुए गिरफ्तार!

0

धर्मेंद्र पांडे की रिपोर्ट :

गिरफ्तार अपराधी के पास से दो पिस्टल और दो देसी कट्टा के साथ 11 जिंदा कारतूस भी बरामद!

पंद्रह जनवरी की देर शाम दरभंगा के जाले थाना क्षेत्र के ब्रह्मपुर गाँव मे गोलियों की तरतराहट के बीच पेट्रोल पम्प लूट को अंजाम देने पहुचे सभी बाइक सवार अपराधियो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. साजिश में शामिल व अंजाम देने वाले पांच अपराधी को पुलिस ने 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया वही दो अपराधी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है। गिरफ्तार अपराधी के पास से दो पिस्टल और दो देसी कट्टा के साथ ग्यारह जिंदा कारतूस भी बरामद किया है इसके अलावा घटना में उपयोग किये बाइक को भी पुलिस ने जप्त किया है ।गिरफ्तार एक अपराधी के पास से कुछ गाड़ी के फर्जी नंबर प्लेट ओर चोरी के बाइक के पाटर्स भी मिले है ।
दरअसल पंद्रह जनवरी के ढेर शाम दो बाइक पर चार अपराधी जाले पेट्रोल पम्प पर पहुचते है और हथियार के बल पर कैश लूटने का प्रयास करते है साथ ही लोगों में दहशत पैदा करने के लिए कई चक्र गोली भी फायर करता है लेकिन पम्प के मालिक और कैश काउंटर पर उपस्थित कर्मचारी ने हिम्मत दिखाई तो अपराधी उल्टे पाँव भागने पर मजबूर हो गए हलाकि भागते समय भी गोली फायर करते रहे लेकिन एक अपराधी अपने ही साथी के बाइक की वजहों से भागने समय अपना संतुलन खो दिया और पम्प पर ही भागने के क्रम में गिर गया तभी पीछा कर रहे लोग ने उसे पकड़ लिया और जमकर धुनाई भी की । पूरी घटना पेट्रोल पम्प पर लगे CCTV कैमरे में कैद भी होगया बाद में मौके पर पहुची पुलिस ने पकड़े गए अपराधी और CCTV फुटेज के आधार पर सभी अपराधियो को 24 घण्टे में ढूंढ निकाला ।

दरभंगा के एसएसपी बाबू राम ने प्रेस कांफ्रेंस कर पूरी जानकारी देते हुए बताया कि घटना के पीछे का मास्टरमाइंड खुद पेट्रोल पम्प के मालिक का बेहद करीबी सुधाकर है जिसके इशारे पर ही पूरी घटना का प्लान बना सुधाकर को पम्प मालिक के इनकम के साथ साथ कब पम्प के काउंटर पर कैश ज्यादा होता है इसकी भी जानकारी उसे थी इसलिए थी उसी समय इस घटना को अंजाम देने अपराधी पहुचे थे । एसएसपी ने कहा कि घटना में शामिल पकड़े गए एक अपराधी से सुधाकर लगातार संपर्क में था इसके सबूत भी मिल गए है फिलहाल सुधाकर पुलिस की गिरफ्त से बाहर है और पुलिस को इस घटना में सुधाकर सहित दो लोगो की और तालाश है । एसएसपी बाबू राम ने कहा कि पूरे मामले ने पुलिस एक सप्ताह के अंदर चार्जसीट अदालत में दाखिल कर स्पीड ट्रायल चलाकर छह माह के अंदर सभी दोषियों को सजा दिलवाने के काम करेगी ।
वही 24 घंटे के अंदर पुरे घटना का उद्भेदन होने पर एसएसपी बाबू राम ने कहा की बिना सोये सभी टीम के लोगो ने मेहनत किया है जिसको लेकर सभी का नाम बिहार पुलिस वार्षिक पारितोषिक समारोह में भेजेंगे सभी को पुरस्कार के लिए अनुशंसा की जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *